Aap Ki Najron Ne Samajhaa / आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे / Anpadh (1962)

Aap Ki Najron Ne Samajhaa Pyaar Ke Kaabil Mujhe Hindi Song Lyrics

आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे
दिल की ऐ धड़कन ठहर जा, मिल गयी मंजिल मुझे

जी हमें मंज़ूर है, आपका ये फैसला
कह रही है हर नज़र, बन्दा परवर शुक्रिया
हँस के अपनी ज़िन्दगी में, कर लिया शामिल मुझे
दिल की ऐ धड़कन…

आपकी मंज़िल हूँ मैं, मेरी मंज़िल आप हैं
क्यों मैं तूफाँ से डरूँ, मेरा साहिल आप हैं
कोई तूफानों से कह दे, मिल गया साहिल मुझे
दिल की ऐ धड़कन…
आपकी नज़रों ने…

पड़ गई दिल पर मेरे, आपकी परछाईयाँ
हर तरफ बजने लगीं, सैकड़ों शहनाईयां
दो जहां की आज खुशियाँ, हो गईं हासिल मुझे
दिल की ऐ धड़कन…
आपकी नज़रों ने…

  • चित्रपट : अनपढ़ (१९६२) 
  • गीतकार : राजा मेहदी अली खान, 
  • गायक : लता मंगेशकर, 
  • संगीतकार : मदन मोहन, 

 Aap-Ki-Najron-Ne-Samajhaa-Anpadh-(1962)

आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे हिंदी लिरिक्स 

Aap Ki Najron Ne Samajhaa Pyaar Ke Kaabil Mujhe
Dil ki ai dhadkan thhahar jaa, mil gi manzil mujhe

Ji hame mnjur hai, apakaa ye faisalaa
Kah rahi hai har najar, bandaa parwar shukriya
Hans ke apani jindagi men kar liyaa shaamil mujhe

Aapaki manzil huan main, meri manzil aap hain
Kyon main tufaan se daruan, meraa saahil ap hain
Koi tufaanonse kah de, mil gayaa saahil mujhe

Pad gayi dil par mere ap ki parachhiyaaan
Har taraf bajane lagi sainkadon shahanaaiyaan
Do jahaan ki aj khushiyaaan ho gayi haasil mujhe

आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे हिंदी लिरिक्स
 Aap Ki Najron Ne Samajhaa Pyaar Ke Kaabil Mujhe Hindi Song Lyrics

Aap Ki Najron Ne Samajhaa / आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे / Anpadh (1962)  Aap Ki Najron Ne Samajhaa / आपकी नज़रों ने समझा, प्यार के काबिल मुझे / Anpadh (1962) Reviewed by FM Hindi Song on दिसंबर 22, 2016 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.