Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke / घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के / Madhumati (1958)

  Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke Haae Dhadke, Kyon DhadkeDhadke Hindi Lyrics


घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के
हाय धड़के क्यों धड़के
आज मिलन की बेला में
सर से चुनरिया क्यों सरके?
घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के

सारे उमर के बदले मैं ने
माँगी थी ये शाम रे
आज यहीं रह जाऊँगी मैं
उनकी बाहें थाम के
प्यार मिला आँचल भर के
हाय धड़के क्यों धड़के
आज मिलन की बेला में
सर से चुनरिया क्यों सरके?
घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के

आज पपीहे तू चुप रहना
मैं भी हूँ चुप चाप रे
मन की बात समझ लेंगे
साँवरिया अपने आप रे
देख ज़रा धीरज धर के
हाय धड़के क्यों धड़के
आज मिलन की बेला में
सर से चुनरिया क्यों सरके?
घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के

फ़िल्म: मधुमती 
गायक/गायिका: लता मंगेशकर
संगीतकार: सलिल चौधरी
गीतकार: शैलेंद्र सिंह
अदाकार: जॉनीवाकर, प्राण, दिलीप कुमार, वैजयन्ती माला

  Ghadi-Ghadi-Moraa-Dil-Dhadke-Madhumati-(1958)

घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के हाय धड़के क्यों धड़के हिंदी लिरिक्स 


Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke Haae Dhadke, Kyon DhadkeDhadke 

Saari umar ke badale mainne maaangi thi ye shaam
Aj yahin kho jaaungi main unaki baahen thaam
Pyaar milaa aanchal bharake

Aj papihe tu chup rahanaa, main bhi huan chupachaap
Dil ki baat samajh lenge saaanwariyaa apane ap
Dekh jraa dhiraj dharake


Movie : Madhumati (1958)
Starring : Dilip Kumar, Vyjayanthimala
Lyricist : Shailendra, 
Singer : Lata Mangeshkar, 
Music Director : Saleel Chowdhury,


Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के  हिंदी लिरिक्स 



Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke / घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के / Madhumati (1958)   Ghadi Ghadi Moraa Dil Dhadke / घड़ी घड़ी मेरा दिल धड़के / Madhumati (1958) Reviewed by FM Hindi Song on दिसंबर 17, 2016 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.