Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani / मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये / Mughal-e-Azam (1960)

Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani Pe Roye Hindi Lyrics

मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये
बड़ी चोट खाई (जवानी पे रोये – 2)
मुहब्बत की झूठी …

न सोचा न समझा, न देखा न भाला
तेरी आरज़ू ने, हमें मार डाला
तेरे प्यार की मेहरबानी पे रोये, रोये
मुहब्बत की झूठी …

खबर क्या थी होंठों को सीना पड़ेगा
मुहब्बत छुपा के भी, जीना पड़ेगा
जिये तो मगर ज़िन्दगानी पे रोये, रोये
मुहब्बत की झूठी …

फ़िल्म: मुग़ल-ए-आज़म /
गायक/गायिका: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: नौशाद
गीतकार: शकील बदांयुनी
अदाकार: दिलीप कुमार, पृथ्वीराज कपूर, मधुबाला

MohabbatKiJhuthhi-Kahaani-Mughal-e-Azam(1960)

मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये हिंदी लिरिक्स 

Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani Pe Roye
Badi chot khaayi jawaani pe roye

Naa sochaa, naa samajhaa, naa dekhaa, naa bhaalaa
Teri araju ne hame maar daalaa
Tere pyaar ki meharabaani pe roye, roye

Khabar kyaa thi hothhon ko sinaa padegaa
Mohabbat  chhupaakar bhi jinaa padegaa
Jiye to magar jindagaani pe roye, roye





Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani/मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये हिंदी लिरिक्स 


Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani / मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये / Mughal-e-Azam (1960) Mohabbat Ki Jhuthhi Kahaani / मुहब्बत की झूठी कहानी पे रोये / Mughal-e-Azam (1960) Reviewed by FM Hindi Song on दिसंबर 18, 2016 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.