Tu Kaha Gayi Thi, Tera Mar Jaye Sawariya / तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया / Dharam Karam (1975)

Tu Kaha Gayi Thi,  Tera Mar Jaye Sawariya

तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया
चिड़िया जैसी उड़ती-फिरती क्या मस्तानी गुड़िया
तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया

तू कहाँ गया था तेरी मर जाए सजनिया
उल्टा चोर कोतवाल को डाँटे हो गई कैसी दुनिया

कहाँ मैं गया था मैं तो गया था करने सैर चमन की
खड़ी थी वहाँ पे एक हसीना मस्ती भरे बदन में
मैं भी ज़रा सा उसके गले से लिपटा पागलपन में
आगे इसके कुछ भी नहीं तू पड़ गई किस उलझन में
तो बाकी रहा क्या यही सोचूँ मैं बाँवरिया
तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया

कहाँ मैं गई थी मैं तो गई थी करने सैर गली की
एक रंगीला मिल गया ऐसा उसकी ओर चली मैं
पकड़ी जो उसने मेरी कलाई क्या कहूँ कैसे खिली मैं हो
आगे इसके कुछ भी नहीं तू पड़ गया किस उलझन में
तो बाकी रहा क्या तेरा मर जाए साँवरिया

तेरी क़सम है मैं तो गया था प्यारी बातें करने
तेरी क़सम है मैं तो गई थी तेरे ही पीछे मरने
हम कहाँ गए थे जाने है सारी नगरिया -2


  • फिल्मः धरम-करम (1975)
  • गायक/गायिकाः लता मंगेशकर, किशोर कुमार
  • संगीतकारः आर. डी. बर्मन
  • गीतकारः मज़रूह सुल्तानपुरी
  • कलाकारः  रणधीर कपूर, रेखा


Tu-Kaha-Gayi-Thi-Tera-Mar-Jaye-Sawariya-Dharam-Karam=(1975)

तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया

Tu Kaha Gayi Thi,  Tera Mar Jaye Sawariya
Chidiya jaisi udti firti, Kya mastani gudiya
Tu kaha gayi thi tera. Mar jaye sawariya

Ulta chor kotwal ko dante, Ho gayi kaisi duniya re
Tu kaha gaya tha teri,Mar jaye sajaniya
Tu kaha gaya tha teri, Mar jaye sajaniya

Kaha mai gaya tha, Mai to gaya tha
Karne ser chaman me ho
Khadi thi waha pe ek hasina
Masti bhar ke badan me
Mai bhi zara phir uske gale se
Lipata pagal pan me ho
Aage iske kuch bhi nahi
Tu pad gayi kis uljhan me
To baki raha kya
To baki raha kya
Yahi sochu mai bawariya
Tu kaha gayi thi o tera
Mar jaye sawariya

Kaha mai gayi thi
Mai to gayi thi
Karne ser gali me ho
Ek rangila mil gaya aisa
Uski aur chali mai
Pkadi jo usne meri kalayi
Kya kahu kaise khili mai
Ho aage iske kuch bhi nahi
Tu pad gaya kis uljhan me
To baki raha kya
To baki raha kya
Ho bolo meri gulbdaniya
Tu kaha gaya tha teri
Mar jaye sajaniya

Teri kasam hai mai to gaya
Tha pyari bate karne ho
Aur kasam hai mai bhi gayi thi
Tere hi pichhe marne ho
Aage pichhe kuch bhi nahi
Hum pad gaye kis uljhan me
Hum kaha gaye the
Jane hai sari ngariya
Hum kaha gaye the
Hum kaha gaye the
Jane hai sari ngariya
Hum kaha gaye the.



Tu Kaha Gayi Thi,  Tera Mar Jaye Sawariya

Tu Kaha Gayi Thi, Tera Mar Jaye Sawariya / तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया / Dharam Karam (1975) Tu Kaha Gayi Thi,  Tera Mar Jaye Sawariya / तू कहाँ गई थी तेरा मर जाए साँवरिया / Dharam Karam (1975) Reviewed by FM Hindi Song on दिसंबर 15, 2016 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.