शुक्रवार, 23 दिसंबर 2016

Tum Agar Sath Dene Ka Wada Karo / तुम अगर साथ देने का वादा करो / Hamraaz (1967)

Tum Agar Sath Dene  Ka Wada Karo Hindi Song Lyrics 

तुम अगर साथ देने का वादा करो
मैं यूँही मस्त नगमे लुटता रहूँ
तुम मुझे देख कर मुस्कुराती रहो
मैं तुम्हें देख कर गीत गाता रहूँ
तुम अगर साथ देने का वादा करो…

कितने जलवे फिजाओं में बिखरे मगर
मैंने अब तक किसी को पुकारा नहीं
तुमको देखा तो नज़रें ये कहने लगीं
हमको चेहरे से हटना गवारा नहीं
तुम अगर मेरी नज़रों के आगे रहो,
मैं हर एक शैय से नज़रें चुराता रहूँ
तुम अगर साथ देने का वादा करो…

मैं ख्वाबों में बरसों तराशा जिसे
तुम वही संग-ए-मर्मर की तस्वीर हो
तुम ना समझो तुम्हारा मुक्क़दर हूं मैं
मैं समझता हूँ तुम मेरी तक़दीर हो
तुम अगर मुझको अपना समझने लगो
मैं बहारों की महफ़िल सजाता रहूँ
तुम अगर साथ देने का वादा करो…

  • चित्रपट : हमराज (१९६७) 
  • गीतकार : साहिर लुधियानवी, 
  • गायक : महेंद्र कपूर, 
  • संगीतकार : रवी, 

Tum-Agar-Sath-Dene-Ka-Wada-Karo-Hamraaz-(1967)

तुम अगर साथ देने का वादा करो हिंदी लिरिक्स 

Tum Agar Sath Dene  Ka Wada Karo 
Main yuan hi mast nagmen lutaata rahuan
Tum mujhe dekhakar muskuraati raho
Main tumhe dekhakar git gaata rahuan

Kitane jalawe fijaaon men bikhare magar
Maine ab tak kisi ko pukaaraa nahin
Tumako dekhaa to najren ye kahane lagi
Hamako chehare se hatanaa gnwaara nahin
Tum agar meri najron ke age raho
Main har ek shay se najren churaataa rahuan

Maine khwaabon men barason taraashaa jise
Tum wahi sngamaramar ki taswir ho
Tum naa samajho tumhaaraa mukddar huan main
Main samajhataa huan tum meri takadir ho
Tum agar mujhako apanaa samajhane lago
Main bahaaron ki mahafil sajaataa rahuan

Main akelaa bahot der chalataa rahaa
Ab safr jindagaani kaa katataa nahin
Jab talak koi rngin sahaaraa naa ho
Wakt kaafir jawaani kaa katataa nahi
Tum agar hamakadam ban ke chalati raho
Main jminpar sitaaren bichhaataa rahuan


तुम अगर साथ देने का वादा करो हिंदी लिरिक्स
Tum Agar Sath Dene  Ka Wada Karo Hindi Song Lyrics 


FM Hindi Song
FM Hindi Song

नमस्कार दोस्तों मैं FM Hindi Song की और से आप सभी का धन्यवाद देता हु जो आप जो आप सभी ने इस ब्लॉग को अपना समझा साथ ही अपना प्यार और सहयोग दिया..

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें