Tu hai koi khalish / तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता /

Tu hai koi khalish, Ya hai koi khata - Hayat And Murat Lyrics In Hindi

दिल में तेरे वादे लिए खुद को ही मैंने भुलाया
हर पल तुझे चाह सनम ख्वाबों में तुझको बुलाया
तू हकीकत तू ही किस्मत खुदा से मंगू तुझे मैं

[तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता
पर सनम मेरी कभी होना ना जुदा]


जो न किया अगर तूने कुबूल जीते जी मर जायेंगे
मेरा वजूद अब हैं तुझसे ही तुझसे ना दूर रह पाएंगे
तू ही है फुरसत तू ही हैं रहमत कैसे ना चाहू तुझे मैं

[तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता
पर सनम मेरी कभी होना ना जुदा] x2


मेरा यकीं चाहे ना कर कभी कर ले यकीं मेरे इश्क का
तेरे लिए सांसे चले तेरे बिना ये बेजुबान
तेरी इबादत करू मैं हर वक़्त कैसे बताऊ तुझे मैं

[तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता
पर सनम मेरी कभी होना ना जुदा] x2

Tu-hai-koi-khalish

तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता हिंदी लिरिक्स

Dil mein tere yaadein liye khud ko hi maine bhoolaya
Har pal tujhe chaha sanam khaabon mein tujhko bulaya
Tu hai hakikat tu hi hai kismat khuda se maangun tujhe main
Tu hai koi khalish
Ya hai koi khata par sanam meri, Kabhi hona na juda

Tu hai koi khalish, Ya hai koi khata
par sanam meri, Kabhi hona na juda

Jo na kiya agar tune kabul jeete jee hum mar jayenge
Mera wajood ab hai tujhse hi tujhse na dur reh payenge
Tu hi hai fursat tu hai rhemat kaise na chahun tujhe main
Tu hai koi khalish
Ya hai koi khata par sanam meri, Kabhi hona na juda

Tu hai koi khalish
Ya hai koi khata par sanam meri, Kabhi hona na juda

Mera yakin chahe na kar kabhi karle yakin mere ishq ka
Tere liye ye saanse chale tere bina hai ye bezubaan
Teri ibadat karu main har waqt kaise btaun tujhe main
Tu hai koi khalish
Ya hai koi khata par sanam meri, Kabhi hona na juda

Tu hai koi khalish
Ya hai koi khata par sanam meri, Kabhi hona na juda

Tu hai koi khalish / तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता / Tu hai koi khalish / तू हैं कोई खलिश या हैं कोई खता / Reviewed by FM Hindi Song on जनवरी 06, 2017 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.